हिंदी कहानिया – Hindi Inspirational Short Stories

Share This Story!

दोस्तों क्या आप भी इस Hindi Inspirational Short Stories को सर्च कर रहे थे? तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं! आपके यहां पर बेस्ट short story in hindi मिलेंगे। 

Hindi Inspirational Short Stories

ये रहे कुछ Hindi Inspirational Short Stories

दोस्तों यह कहानी है एक लड़के की, जो गांव में रहता था। वह लड़का अपनी पुरानी यादों को ना भूल पाने की वजह से परेशान था। क्यों एक ही बात को बार-बार सोचता रहता था। 

अगर उस लड़के को, कोई कुछ कह देता या फिर उसके साथ कुछ थोड़ा सा भी गलत हो जाता, तो वह बस उसी एक घटना के बारे में पूरे दिन सोचता रहता था। वही बात उसके दिमाग में हर समय घूमती रहती थी।

फिर वह या तो अपने साथ हुई किसी बुरी घटना के लिए अपनी किस्मत को कोषता रहता या फिर अपने मन में उस इंसान से बदला लेने के ख़याली पुलाव बनाता रहता था। 

अपनी इस ज्यादा सोचने की आदत की वजह से, ना तो लोगों के साथ उसके रिश्ते अच्छे थे, और ना ही वह किसी काम को अच्छे से कर पता था। वो इस वजह से हमेशा तनाव में और हमेशा परेशान रहता था।

उसकी यह हालत देखकर उसके एक दोस्त ने उसे सलाह दी, की यहाँ पास के गांव में एक बुजुर्ग रहते हैं, तुम उनके पास जाओ, वह तुम्हारी इस दिमागी प्रॉब्लम का कोई ना कोई हल जरूर बता देंगे। 

वह लड़का उन बुजुर्ग के पास जाता है और अपनी सारी प्रॉब्लम उन्हें बताता है, की कैसे वह एक ही घटना के बारे में बार-बार सोचता रहता है, और पुरानी बुरी बातों को भूल नहीं पता है। 

लड़के की पूरी बात सुनने के बाद वह बुजुर्ग वहां से उठकर घर के अंदर चले जाते हैं, उन बुजुर्ग का बिना कुछ कहे वहां से उठकर चले जाना, लड़के को अजीब सा लगता है। लेकिन वह फिर भी वहीं बैठा रहता है। 

इतनी देर बाद वह देखता है कि वह बुजुर्ग आदमी मिट्टी के गिलास में पानी भरकर उसकी तरफ आ रहे हैं। वह लड़के के पास आकर खड़े हो जाते हैं, और लड़का भी उनके सामने खड़ा हो जाता है। वह लड़के से पूछते हैं, ” बताओ इस ग्लास का वजन कितना होगा?

लड़के ने कहा मैं एकदम सही तो नहीं बता सकता हूं लेकिन इस ग्लास का वजन बहुत ही कम है। अब उन बुजुर्ग में एकदम गंभीर होकर कहा ” मेरा सवाल यह है कि अगर मैं इस ग्लास को थोड़ी देर तक ऐसे ही पकड़ कर खड़ा रहूं, तो क्या होगा? “

लड़के ने कहा कुछ भी नहीं होगा। उन बुजुर्ग ने फिर से पूछा, अगर मैं इस ग्लास को इसी तरह 1 घंटे तक पकड़ कर खड़ा रहूं, तब क्या होगा? लड़के ने कहा आपके हाथ में दर्द होने लगेगा।

उन बुजुर्ग ने फिर से उस लड़के से पूछा कि अगर मैं इस ग्लास को बिल्कुल इसी तरह पूरे दिन पकड़ कर खड़ा रहूं, तब क्या होगा? लड़की ने कहा आपके हाथ में बहुत ही भयंकर दर्द होना शुरू हो जाएगा। 

और आपका हाथ सुन भी हो सकता है, आपकी मांसपेशियों में भारी तनाव आ सकता है, और यहां तक की आपके हाथ को लकवा भी मार सकता है। उन बुजुर्ग ने मुस्कुराते हुए कहा ” बहुत बढ़िया ” 

लेकिन क्या इस दौरान ग्लास का वजन बढ़ा? लड़के ने कहा “नहीं!” वजन तो नहीं बढ़ा, गिलास भी वही था, और गिलास में पानी भी उतना ही था।

फिर से उन्होंने उस लड़के से पूछा ” फिर भला मेरे हाथ में दर्द और मांसपेशियों में तनाव क्यों आया? ” उस लड़के ने जवाब दिया ” उस गिलास को बहुत समय तक पकडे रहने के वजह से। “

उन बुजुर्ग आदमी ने फिर सवाल किया ” अब इस दर्द से छुटकारा पाने के लिए मैं क्या करूं? ” लड़के ने बड़े आराम से जवाब दिया गिलास को नीचे रख दीजिए! बुजुर्ग आदमी ने कहा बिल्कुल सही!

और जिंदगी की परेशानियां भी कुछ इसी तरह होती है, इन्हें कुछ देर तक अपने दिमाग में रखोगे, तो कोई तकलीफ नहीं होगी। लेकिन अगर इनके बारे में ज्यादा देर तक सोचोगे तो दिमाग में दर्द होना शुरू हो जाएगा। अगर और भी देर तक अपने दिमाग में रखोगे, तो यह आपको पागल बना देगी, और आप कुछ भी नहीं कर पाएंगे।

उन बुजुर्ग ने उस लड़के की तरफ इशारा करके कहा ” जिंदगी के पिछले गलतियां और घटनाओं के बारे में सोचना जरूरी है, लेकिन उससे भी ज्यादा जरूरी है उनसे सीख कर आगे बढ़ना! अगर तुम एक ही बात को पकड़ कर बैठे रहते हो, तो ठीक उसे गिलास की तरह यह भी तुम्हारी जिंदगी में दर्द पैदा कर देगी।”

अगर तुम आज अपने अतीत को लेकर बैठे रहते हो तो अतीत के बारे में सोचते रहने से अभी का आज तुम्हारे हाथ से निकल जाएगा, और फिर तुम फ्यूचर में इसके लिए भी पछताओगे। 

बेहतर एहि है कि पुरानी बातों और घटनाओं से सीख कर उन्हें वही भूल जाओ और जिंदगी में आगे बढ़ो। 

तो दोस्तों! आपको ये Hindi Inspirational Short Stories केसी लगीं? कमेंट करके जरूर बताईये!

5/5 - (4 votes)

Love to write stories about morality and motivational.

2 thoughts on “हिंदी कहानिया – Hindi Inspirational Short Stories”

Leave a Comment